आखिर कमलनाथ क्यों करा रहे हैं ‘हनुमान चालीसा’ का पाठ? कांग्रेस ने बताई ये वजह

मध्यप्रदेश कांग्रेस के प्रमुख कमलनाथ अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के भूमि-पूजन समारोह की पूर्व संध्या यानी मंगलवार को भोपाल में अपने निवास पर 'हनुमान चालीसा' का पाठ कर रहे हैं। रविवार को कांग्रेस प्रवक्ता भूपेंद्र गुप्ता ने कहा कि इस दौरान कोविड -19 के सभी प्रोटोकॉल का सख्ती से पालन किया जाएगा।

गुप्ता ने बताया कि मंगलवार को कमलनाथ जी के निवास पर हनुमान चालीसा का पाठ किया जाएगा। वह हनुमानजी के आराध्य भक्त हैं। उन्होंने पार्टी कैडर और नेताओं से मंगलवार को अपने घरों में 'हनुमान चालीसा' का पाठ करने के लिए कहा है।

शनिवार को कमलनाथ ने कहा कि हर भारतीय की सहमति से अयोध्या में राम मंदिर का निर्माण किया जा रहा है। जब कांग्रेस प्रवक्ता से पूछा गया कि राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री द्वारा आयोजित कार्यक्रम के पीछे का कारण क्या है तो उन्होंने कहा कि मंगलवार एक शुभ दिन है।

उन्होंने कहा कि इस कार्यक्रम को लेकर कोई अंदाज नहीं लगाना चाहिए। यह विशुद्ध रूप से एक आध्यात्मिक कार्यक्रम है। उन्होंने कहा कि राज्य में कांग्रेस सरकार गिरने के चलते कमलनाथ जी अपने निर्वाचन क्षेत्र छिंदवाड़ा में हर साल होने वाले भव्य वार्षिक धार्मिक आयोजन नहीं कर सके।

उन्होंने कहा कि कुछ साल पहले जब कमलनाथ जी संसद थे तो उन्होंने छिंदवाड़ा जिले में भगवान हनुमान की 101 फीट ऊंची प्रतिमा  स्थापित की थी। इस साल मार्च में कांग्रेस के 22 बागी विधायकों ने पार्टी से इस्तीफा दे दिया, जिससे राज्य में 15 महीने पुरानी कमलनाथ सरकार गिर गई थी।

इस विद्रोह के बाद कमलनाथ ने 20 मार्च को मुख्यमंत्री के रूप में इस्तीफा दे दिया, जिससे राज्य में भाजपा की सत्ता में वापसी हुई। मार्च के बाद से 25 विधायकों ने अब तक कांग्रेस के साथ-साथ राज्य विधानसभा से इस्तीफा दे दिया है।
 

Leave a Reply