टेपकांड मामले में जांच के लिए रविवार को अंतागढ़ जाएगी SIT की टीम

छत्तीसगढ़ में अंतागढ़ टेपकांड मामले की जांच तेज हो गई है. संबंधित मामले की जांच के लिए एक टीम रविवार को अंतागढ़ जाने वाली है. रायपुर एसपी और विशेष जांच टीम (एसआईटी) चीफ नीथू कमल का कहना है कि इस मामले में डॉ. पुनीत गुप्ता से लेकर छजकां नेता अमित जोगी तक सभी लोगों से जल्द पूछताछ शुरू की जाएगी.

रायपुर एसपी नीथू कमल ने कहा कि शनिवार को कांग्रेस नेताओं में गिरीश देवांगन, महेन्द्र छाबड़ा से भी टीम ने पूछताछ की है. गौरतलब है कि इस मामले में मंतूराम पवार, फिरोज सिद्दीकी और अमीन मेमन से एसआईटी पहले ही पूछताछ कर चुकी है. अब इस मामले से जुड़े बड़े लोगों से भी पूछताछ की जाएगी. क्योंकि इस मामले में कांग्रेस की ओर से किरणमयी नायक ने पंडरी थाने में डॉ. पुनीत गुप्ता, मंतूराम पवार, राजेश मूणत और अमित जोगी के खिलाफ मामला दर्ज कराया है. इसकी जांच भी एसआईटी कर रही है.

नीथू कमल ने कहा कि अंतागढ़ मामले में सभी बिंदुओं पर जांच चल रही है. फिलहाल, सभी बयान दर्ज किए जा रहे हैं, बाद में आगे की कार्रवाई शुरू की जाएगी.

गौरतलब है कि उप-चुनाव के एक साल बाद दिसंबर 2015 में मीडिया में अंतागढ़ चुनाव में हुई खरीद-फरोख्त का खुलासे का दावा करने वाला ऑडियो टेप सामने आया, जिसमें पूर्व सीएम अजीत जोगी के बेटे व तत्कालीन विधाायक अमित जोगी और पूर्व सीएम डॉ. रमन सिंह के दामाद डॉ. पुनीत गुप्ता के बीच कथित बातचीत का अंश होना बताया गया. बातचीत में पूर्व अजीत जोगी सहित मौजूदा सरकार से जुड़े कई लोगों का जिक्र था. टेप में कथित तौर पर मंतूराम को चुनाव में बिठाने के लिए 7 करोड़ के लेनदेन की बात थी. आरोप लगे हैं कि पूर्व मंत्री राजेश मूणत के रायपुर स्थित बंगले से पैसों का लेनदेन किया गया. इन आरोपों को आधार कर ही उक्त चारों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *