पंडितों और अगड़ों के क्लब तक सीमित है भारत रत्न: असदुद्दीन औवेसी

संसद के बजट सत्र का आज छठा दिन है. लोकसभा में आज राष्ट्रपति के अभिभाषण पर लाए गए धन्यवाद प्रस्ताव पर आगे की चर्चा हो रही है. धन्यवाद प्रस्ताव पर बोलते हुए AIMIM के सांसद असदुद्दीन ओवैसी ने केंद्र की मोदी सरकार पर जोरदार हमला बोला. उन्होंने कहा कि सरकार की गलतियों की वजह से आज कश्मीर भुगत रहा है. उन्होंने कहा कि मोदी ने कश्मीर में खाली जगहों को देखकर हाथ हिलाया. ओवैसी ने इसके अलावा भारत रत्न दिए जाने को लेकर भी सरकार पर निशाना साधा. उन्होंने कहा कि यह ब्राह्मणों और सवर्णों का क्लब बन गया है.

बता दें कि पीएम मोदी रविवार को कश्मीर के दौरे पर थे. इस दौरान वह कुछ देर के लिए डल झील पर भी रुके. न्यूज एजेंसी एएनआई ने एक वीडियो जारी किया था, जिसमें पीएम मोदी डल झील की सैर करते दिखे. नाव पर सैर के दौरान वह हाथ हिला रहे थे. पीएम मोदी के हाथ हिलाने पर जम्मू-कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने उनका मजाक उड़ाया था. उन्होंने कहा कि वह 'कश्मीर में काल्पनिक मित्रों' की तरफ हाथ हिलाकर उनका अभिवादन कर रहे हैं.

ओवैसी ने कहा कि हमारी गलत नीतियों के कारण दक्षिण एशिया में भारत अलग-थलग पड़ा है. इस देश को चौकीदार की जरूरत नहीं है. ओवैसी ने कहा कि प्रधानमंत्री और उनकी कैबिनेट ने संविधान और उसकी शपथ के खिलाफ काम किया है. उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री ने अपने भाषण में मंदिर चाहिए या मस्जिद चाहिए जैसा बयान दिया, जो उस शपथ के खिलाफ है. साथ ही प्रधानमंत्री ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका डालकर अयोध्या में जमीन मांगी है, यह भी संविधान की शपथ के खिलाफ है.

ओवैसी ने कहा कि सरकार हिन्दुस्तान पर भरोसा करती है या हिन्दुत्व पर. आपने मक्का मस्जिद धमाके में बरी हुए लोगों के खिलाफ एक अपील तक दायर नहीं की. दीन दयाल उपाध्याय पर फर्जीवाड़े के आरोप है. इस सरकार ने उन्हें भारत रत्न दिया है. भारत रत्न सिर्फ ब्राह्मणों और सवर्णों का क्लब बन गया है.

ओवैसी ने तीन तलाक को लेकर भी पीएम मोदी पर निशाना साधा. उन्होंने कहा कि पीएम मोदी को तलाकशुदा मुस्लिम महिलाओं से सहामभूति है, लेकिन मुस्लिम बच्चों की फ्रिक नहीं है. उन्होंने कहा कि इन बच्चों की स्कॉलरशिप काफी समय से लंबित पड़ी है. 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *