बीकानेर में डिग्गी में डूबने से पिता-पुत्र और पुत्रवधू की मौत, टॉर्च की रोशनी में चला रेस्क्यू ऑपरेशन

बीकानेर के लूणकरणसर इलाके में डिग्गी में डूबने से एक परिवार के तीन लोगों की मौत हो गई. मृतकों में पिता-पुत्र और पुत्रवधू शामिल हैं. पुलिस ने तीनों के शवों को डिग्गी से निकलवाकर स्थानीय अस्पताल की मोर्चरी में रखवाया है. गुरुवार को शवों का पोस्टमार्टम करवाया जाएगा. हादसा एक दूसरे को बचाने के चक्कर में हुआ बताया जा रहा है.

जानकारी के अनुसार हादसा लूणकरणसर इलाके के किस्तूरियां गांव में चक 298 आरडी के पास बुधवार शाम को हुआ. वहां प्रभु सिंह राठौड़ के खेत पर लेखराम, भंवरलाल और लक्ष्मी खेती का कार्य करते थे. प्रभु सिंह के खेत में पानी की डिग्गी बनी हुई है. वहां शाम को तीनों की डिग्गी में डूबने से मौत हो गई. हादसे की सूचना मिलने पर लूणकरणसर सीओ दुर्गपाल सिंह अपनी टीम के साथ मौके पर पहुंचे, लेकिन प्रशासन का कोई भी अधिकारी मौके पर नहीं पहुंचा.
डिग्गी में पानी अधिक होने से शव दिखाई नहीं दे रहे थे. इस पर पुलिस ने जरनेटर की मदद से पहले डिग्गी से पानी बाहर निकाला. रात में घना अंधेरा होने के कारण बचाव कार्य में काफी परेशानियों का सामना करना पड़ा. महज टॉर्च की रोशनी की मदद से शवों को ढूंढने का काम देर रात तक जारी रहा. करीब 5 घंटे के बाद शवों को बाहर निकाला जा सका. हादसे की सूचना मिलने पर गांव में शोक छा गया.
 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *