बोर्ड परीक्षा में अच्छे अंकों के लिए करें योजनाबद्ध तैयारी 

बोर्ड परीक्षा की तैयारी छात्र साल भर से करते हैं। दिसबंर के दूसरे सप्ताह से ही छात्र प्री-बोर्ड और बोर्ड परीक्षा की तैयारियों में लग जाते हैं। छात्र दिन रात की मेहनत कर परीक्षा में बेहतर अंक लाने का प्रयास करते हैं हालांकि कई बार इतनी मेहनत के बाद भी उनका परीक्षा परिणाम संतोषजनक नहीं होता। इसकी एक सबसे बड़ी वजह तैयारी को योजनाबद्ध तरीके से न करना होता है। ऐसे मे छात्रों को चाहिए कि वह बोर्ड की तैयारी को योजनाबद्ध तरीके से शुरू करें।
अपनी तैयारियों पर ध्यान देना चाहिए। 
परीक्षा की तैयारी शुरू करने से पहले आपको अपना टाइमटेबल बनाना चाहिए। ध्यान रखें कि आपका टाइम टेबल पूरी तरह से सिलेबस के आधार पर तैयार किया गया हो। संभव हो तो ऐसे विषय को ज्यादा तरजीह दें जिन्हें आप कठिन मानते हैं।आप उन विषय को भी समय जरूर दें जो आपके लिए आसान है। ऐसा करने से आप तय समय के अंदर ही सभी विषय के सिलेबस को समय दे पाएंगे। आपकी यह रणनीति परीक्षा में बेहतर नंबर लाने में आपकी मदद करेगा। 
खाने का रखें पूरा ख्याल
अक्सर ऐसा देखा जाता है कि छात्र परीक्षा की तैयारी के दौरान खाना-पीना भी सही से नहीं लेते। इसका असर भी उनकी सेहत पर ही पड़ता है। ऐसा करने से परीक्षा की तैयारी करते समय आपके बीमार होने की संभावना बढ़
जाती है। लिहाजा आपको चाहिए कि तैयारी करते समय आप पढ़ाई के साथ-साथ आपको अपने खान-पान का भी विशेष ध्यान रखना चाहिए। 
बीच-बीच में आराम करें
तैयारी करते समय समय-समय पर ब्रेक लेना जरूरी है. पढ़ाई के बीच में लिया जाने वाला यह ब्रेक आपको पहले पढ़ी गई चीजों को दोबारा से दोहराने का मौका देता है. इसके साथ ही यह ब्रेक
आपके मेमोरी को बेहतर करने में भी मददगार होता है. आम तौर पर छात्रों को अपनी पढ़ाई के बीच 10 से 15 मिनट का ब्रेक लेते रहना चाहिए.
कठिन विषय को ज्यादा समय दें
बोर्ड की तैयारी के दौरान आपके पास सीमित समय होता है। ऐसे में आपको चाहिए कि आप उन विषय की तैयारी पहले शुरू करें जो आपके लिए कठिन हैं। बोर्ड की तैयारी शुरू करते समय छात्र का दिमाग
तरोताजा होता है। ऐसे में आपको कठिन विषय की तैयारी में काफी मदद मिलेगी। 
जरूरत से ज्यादा तनाव न लें 
बोर्ड परीक्षा की तारीखों के नजदीक आते ही अक्सर छात्र तनाव में आ जाते हैं और वह पहले पढ़े हुए चीजों को लेकर भी संदेह में आने लगते है। ऐसे में आपको चाहिए कि आप जरूरत से ज्यादा तनाव न लें। इसका विपरीत असर आपकी ही तैयारी पर भी पड़ता है। इस प्रकार आपका परीक्षा परिणाम बेहतर रहेगा।
 

Leave a Reply