‘विराट ब्रिगेड’ के 15 फेवरेट, जानिए किस जगह पर कौन रहेगा फिट

नई दिल्ली: ऐसा कम ही होता है कि किसी खिलाड़ी को हारने के बाद भी निराशा ना हो. और अगर वह जीत का दावेदार होकर भी हार जाए तो गम दोगुना हो सकता है. लेकिन भारतीय क्रिकेट कप्तान विराट कोहली ऑस्ट्रेलिया से हारकर भी ना तो निराश हैं और ना ही उन्हें किसी बात का पछतावा है. विराट कोहली (Virat Kohli) ने यह बात बुधवार को ऑस्ट्रेलिया से हारने के बाद खुद स्वीकार की. आप उनके बयान से इत्तफाक रखें या नहीं, लेकिन विराट के ऐसा कहने की वजह जायज है. उन्होंने यह भी साफ किया कि इंग्लैंड में होने वाले विश्व कप (World Cup 2019) की टीम लगभग फाइनल है. विश्व कप 30 मई से इंग्लैंड में खेला जाना है. 

दरअसल, भारतीय टीम (Team India) ने ऑस्ट्रेलिया से सीरीज के दौरान आगामी विश्व कप को ध्यान में रखकर कुछ प्रयोग किए. हालांकि, इन प्रयोगों का मैदान पर बहुत सकारात्मक असर नहीं दिखा और रिजल्ट भारत के खिलाफ गया. लेकिन टीम प्रबंधन यह प्रयोग लंबी योजना के तहत कर रहा था, इसलिए वह हार से निराश नहीं है. विराट कोहली बुधवार को जब प्रेस कॉन्फ्रेंस में आए तो उनसे सबसे अधिक सवाल विश्व कप को लेकर ही किए गए. विराट कोहली ने साफ किया कि उनकी विश्व कप की प्लेइंग इलेवन (Playing XI) लगभग तय है. सिर्फ एक स्थान को लेकर कुछ चर्चा की जा सकती है. 

3 महीने में 4 स्थान के लिए खूब प्रयोग हुए
भारतीय टीम के पिछले तीन महीने के कॉम्बनेशन को देखें तो विश्व कप के लिए टीम की तस्वीर साफ नजर आती है. विश्व कप में 15 सदस्यीय टीम जानी है. इस टीम के लिए पिछले तीन महीने में चार जगहों के लिए खूब प्रयोग हुए. इन प्रयोगों में नंबर-4 के बल्लेबाज, दूसरे विकेटकीपर, तीसरे पेसर और दूसरे स्पिनर की तलाश शामिल रहा. तीसरे ओपनर के तौर पर केएल राहुल का टीम में चुना जाना भी तय लग रहा है. 

ऑलराउंडर: विजय ने मारी बाजी, दोहरी भूमिका निभाएंगे  
पिछले दो महीने में अगर किसी खिलाड़ी ने सबसे अधिक प्रभावित किया है तो वे विजय शंकर हैं. वे 15 सदस्यीय टीम में जगह बना सकते हैं. दरअसल, नंबर-4 के प्रयोग में अंबाती रायडू अपनी जगह बचाने में कामयाब रहे हैं. लेकिन उन पर टीम को ज्यादा भरोसा भी नहीं है. दूसरी ओर, हार्दिक पांड्या की फिटनेस शंका के दायरे में रही है. विजय शंकर ने दिखाया है कि वे इन दोनों ही खिलाड़ियों की भूमिका को निभा सकते हैं. इसलिए विश्व कप की टीम में उनकी जगह तय दिख रही है. 

विकेटकीपर: पंत को मिलेगी कार्तिक पर तरजीह
ऋषभ पंत ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ दो मैच खेले. उन्होंने विकेटकीपिंग में कई गलतियां कीं. उनके पास पांचवें वनडे में बल्लेबाजी से जीत दिलाने का मौका था, लेकिन वे चूक गए. विराट कोहली के बयान से साफ है कि पंत को दूसरे विकेटकीपर के लिए दिनेश कार्तिक पर वरीयता मिलेगी. दिनेश कार्तिक विश्व कप तभी खेल सकते हैं, जब वे आईपीएल में शानदार प्रदर्शन करें और पंत फ्लॉप रहें. 

स्पिनर: चहल से पिछड़ सकते हैं ऑलराउंडर जडेजा 
भारतीय टीम का गेंदबाजी आक्रमण भी तय लग रहा है. इसमें तीन तेज गेंदबाजों जसप्रीत बुमराह, भुवनेश्वर कुमार, मोहम्मद शमी, कुलदीप यादव और युजवेंद्र चहल को मौका  मिलना तय लग रहा है. पिछले दिनों हुए प्रयोगों का फायदा उठाकर मोहम्मद शमी ने खलील अहमद से संभावित जगह छीनी है. वहीं, युजवेंद्र चहल ने रवींद्र जडेजा को पीछे छोड़ दिया है. युजवेंद्र पारी के बीच में विकेट निकालने में माहिर हैं. इस कारण उन्हें ऑलराउंडर और टीम के बेस्ट फील्डर जडेजा पर वरीयता मिल सकती है. 

विश्व कप के लिए संभावित टीम: विराट कोहली (कप्तान), रोहित शर्मा (उप कप्तान),  शिखर धवन, केएल राहुल, अंबाती रायडू, एमएस धोनी, ऋषभ पंत, केदार जाधव, हार्दिक पांड्या, विजय शंकर, भुवनेश्वर कुमार, युजवेंद्र चहल/रवींद्र जडेजा, कुलदीप यादव, जसप्रीत बुमराह, मोहम्मद शमी. 
 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *