छत्तीसगढ़ के बीजापुर में मुठभेड़ में मारे गए 10 नक्सली, 11 हथियार बरामद

बीजापुर। छत्तीसगढ़ के अतिसंवेदनशील नक्सल प्रभावित बीजापुर जिले के माढ़ क्षेत्र में पुलिस और नक्सलियों के बीच मुठभेड़ में 10 नक्सलियों के मारे जाने की खबर है। इस इलाके में नक्सलियों का ट्रेनिंग कैंप चल रहा था। सुरक्षाबलों ने सुनियोजित रणनीति के साथ दुर्गम इलाके में इस कार्रवाई को अंजाम दिया। शवों के साथ एक इंसास, एक 303 रायफल और 9 भरमार हथियार बरामद किए जाने की बात सामने आ रही है। नक्सलियों के एरिया कमेटी का डीआरजी की टीम ने एक झटके में सफाया कर दिया। भैरमगढ़ के माढ़ थाना क्षेत्र के जंगल में यह मुठभेड़ हुई है। माना जा रहा है कि घटना स्थल पर सर्चिंग के बाद और भी नक्सलियों के शव मिल सकते हैं।

एसपी मोहित गर्ग ने घटना की पुष्टि करते बताया कि गुस्र्वार सुबह 11 बजे के आस-पास माढ़ के जंगल में जिला बल, डीआरजी और एसटीएफ की संयुक्त टीम की माढ़ के जंगल में मुठभेड़ हुई। 10 नक्सलियों के शव घटना स्थल से मिले हैं। सभी नक्सली वर्दी में हैं। हमें इस बात की सूचना मिली थी कि इस जगह पर नक्सलियों की ट्रेनिंग चल रही है। हम उन्हें लगातार ट्रैक कर रहे थे। सही मौका देखकर टीम वहां पहुंची और नक्सलियों की घेराबंदी कर ली।घटना स्थल पर अभी भी रुक-रुककर फायरिंग जारी है। यहां नक्सलियों के कैंप की ओर सुरक्षाबल बढ़ रहे हैं। अंदाजा लगाया जा रहा है कि घटना में और भी कई नक्सली मारे गए हैं। सर्चिंग के दौरान और भी नक्सलियों के शव मिलने की उम्मीद है। माढ़ क्षेत्र बीजापुर और सुकमा जिले के बीच स्थित है और अबूझमाढ़ से लगा हुआ है। इस इलाके को छत्तीसगढ़ का सबसे संवेदनशील नक्सल इलाका माना जाता है। यह एक दुर्गम क्षेत्र है जो पहाड़ों से घिरा है और इंद्रावती नदी को पार कर यहां पहुंचना पड़ता है। सुरक्षा बलों ने सुनियोजित तैयारी के साथ इस बड़ी कार्रवाई को अंजाम दिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *