भीषण प्रदूषण के चलते बैंकॉक में एक सप्ताह के लिए स्कूल बंद  

बैंकॉक । दुनिया के सबसे प्रदूषित शहर दिल्ली में स्मॉग ऐसी समस्या बनता जा रहा है, जिसके आगे ज़िंदगी दम तोड़ती दिखाई देती है। इसके लिए दिल्ली सरकार को ऑड-इवन जैसी स्कीम तक लागू करनी पड़ी। लेकिन, प्रदूषण अकेले दिल्ली की समस्या नहीं है। दुनिया के दूसरे प्रमुख शहर भीषण प्रदूषण की चपेट में हैं। बैंकॉक में प्रदूषण की वजह से स्कूलों को इस सप्ताह के लिए बंद किया गया है। थाईलैंड की राजधानी में हवा की हालत ऐसी हो गई है कि स्कूलों को एक सप्ताह के लिए बंद करना पड़ा। लोगों से पटाख़े कम से कम इस्तेमाल करने की अपील की गई है। यहां हवा की गुणवत्ता में गिरावट ख़तरनाक स्तर को पार कर गई है। 41 जगहों पर पीएम 2.5 स्तर के पार जा पहुंचा है। पीएम 2.5 एक तरह का मिश्रण होता है। इसमें लिक्विड की बूंदों से लेकर ठोस कण तक होते हैं, जिसमें धूल, कालिख और धुआं जैसी चीज़ें शामिल होती हैं। 
पीएम 2.5 हवा की गुणवत्ता यानी एयर क्वॉलिटी इंडेक्स (एक्यूआई) को मापने का एक प्रमुख पैमाना है। बैंकॉक का एक्यूआई बुधवार को चिंताजनक स्थिति को पार कर गया था। 257 शहरों से हासिल डेटा के मुताबिक बैंकॉक दुनिया का पांचवां सबसे प्रदूषित शहर है और दिल्ली इस मामले में नंबर वन है। 
प्रदूषण की वजह से बैंकॉक के 400 स्कूलों में कक्षाओं को रद्द कर दिया गया है। यहां के सारे निजी और सरकारी स्कूलों को इस सप्ताह बंद रखा जाएगा। यह जानकारी सरकार के प्रवक्ता ने दी है। प्रवक्ता ने बताया। हम शनिवार और रविवार को इसका जायज़ा लेंगे की क्या स्कूलों को अगले हफ्ते भी बंद रखने की जरूरत है। उन्होंने इस बात पर भी ज़ोर दिया कि इस दौरान होने वाली परीक्षाओं और टेस्ट को भी स्थगित करना पड़ सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *